लाठीचार्ज को लेकर योगी सरकार पर साधा निशाना

लखनऊ –  बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने उन्नाव जिले में जमीन के मुआवजे को लेकर किसानों पर पुलिस के लाठीचार्ज को लेकर राज्य सरकार की सोमवार को आलोचना की। मायावती ने ट्वीट किया,

जरूर पढ़ें – 

करीना को चाहिए अक्षय का बेबी

 

 

‘‘उत्तर प्रदेश सरकार को उन्नाव में पिछले कई दिनों से चल रहे जमीन मुआवजे के विवाद/हिंसा के लगातार उलझते जा रहे मामले को जमीन मालिकों के साथ बैठकर जल्दी सुलझाना चाहिए

 

 

 

 

, ना कि उनके ऊपर पुलिस लाठीचार्ज और उनका शोषण आदि कराना चाहिये। यह अति-निन्दनीय है। इसे सरकार को अति गम्भीरता से लेना चाहिये।’गौरतलब है कि शनिवार को उन्नाव के गंगा बैराज रोड स्थित ट्रांसगंगा सिटी में काम कराने पहुंची

 

 

 

 

प्रशासन और यूपीसीडा की टीम पर किसानों ने हमला कर दिया था। पुलिस ने भीड़ पर लाठीचार्ज किया तो उग्र ग्रामीणों ने पथराव कर दिया था, जिसमें अपर पुलिस अधीक्षक विनोद पांडेय और पुलिस

 

 

 

 

क्षेत्राधिकारी अंजनी कुमार समेत छह से ज्यादा पुलिसकर्मी घायल हो गए थे। जवाब में पुलिस के लाठीचार्ज में 12 से ज्यादा ग्रामीण घायल हो गए थे। इस बीच, समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इस मामले पर कहा

 

 

 

 

कि भाजपा सरकार के दमन के कारण किसानों में असंतोष व्याप्त है। ट्रांस गंगा प्रोजेक्ट के लिए भाजपा सरकार हठधर्मी रवैया अपनाए हुए है और किसानों की दिक्कतों के समाधान की जगह उन पर लाठियां भांज रही है।

 

 

 

 

उन्‍होंने कहा कि प्रदेश की पूर्ववर्ती समाजवादी सरकार जहां किसानों की सहमति से जमीन का अधिग्रहण करने में सफल रही थी, वहीं भाजपा सरकार उन्‍हें बिना पर्याप्त मुआवजा दिए बेघर और बेरोजगार बनाने पर तुली है।

 

 

 

 

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी किसानों पर हुए लाठीचार्ज की निंदा करते हुए एक ट्वीट में घटना का एक कथित वीडियो भी शेयर  उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री अभी गोरखपुर में किसानों पर बड़ी-बड़ी बातें कर रहे हैं।