महेंद्र सिंह धोनी के फैंस के हाथ लगेगी निराशा

महेंद्र सिंह धोनी के भारत-बांगलादेश के बीच कोलकाता टेस्ट मैच में कमेंट्री करने की खबरें आ रही थी। लेकिन अब ऐसा शायद नहीं होगा। सफेद जर्सी की क्रिकेट में धोनी अपना योगदान नहीं दे पाएंगे।

 

यह जरुर पढ़े –

छेड़छाड़ करने वाले शिक्षकों पर पास्को एक्ट के तहत मामला दर्ज

 

 

 

धोनी के फैंस जो लंबे समय से उन्हें नहीं देख पा रहे थे। उनका इंतजार अब और लंबा हो जाएगा। क्योंकि मैदान के क्रिकेटर धोनी अब कमेंटेटर धोनी नहीं बन रहे। भारत-न्यूजीलैंड वर्ल्ड कप सेमीफाइनल मैच के बाद से क्रिकेट

 

 

 

के मैदान से महेंद्र सिंह धोनी दूर चल रहे है। उनके संन्य़ास लेने की खबरें हर दिन अफवाहों की तरह उड़ान भरती है और कुछ समय बाद अपने आप शांत भी हो जाती है। धोनी के संन्यास लेने का दिन सिर्फ माही ही जान सकते है

 

 

 

बाकि सब तो बस अंदाजा लगाते रहते है। वहीं उनके फैंस उन्हें हमेशा खेलते हुए ही देखना चाहते है। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ रांची टेस्ट के दौरान कुछ समय के लिए धोनी जरुर मैदान पर आए थे। लेकिन उसके बाद से धोनी फिर गायब हो गए।

 

 

 

इस बीच फिर से खबर उड़ी की धोनी ने क्रिकेट से संन्यास ले लिया और बस धोनी के रिटायरमेंट का एलान होना बाकी है। लेकिन अब लंबे समय से माही के मैदान पर लौटने का इंतजार करने वाले फैंस के लिए एक बुरी खबर है।

 

 

 

धोनी के बारे में ये खबर उनके संन्यास लेने से नहीं होकर क्रिकेट के मैदान में फिर से दिखने के ऊपर है। दरअसल क्रिकेट के मैदान से दूर धोनी के भारत के पहले डे-नाइट एतिहासिक टेस्ट मैच में आने की बात की जा रही थी।

 

 

 

बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली इसके लिए स्पेशल तैयारी कर रहे हैं। ऐसे में स्टार स्पोर्ट्स ने सौरव गांगुली को एक प्रपोजल भेजा जिसमें ये कहा गया है कि तमाम टेस्ट कप्तान को कोलकाता टेस्ट के दौरान मैदान पर बुलाया जाएं

 

 

 

और सारे कप्तान अपने टेस्ट अनुभव को कॉमेंट्ररी बॉक्स में बैठ कर साझा करें। जिसमें धोनी का नाम भी शामिल था। माना जा रहा था कि इस मैच में महेंद्र सिंह धोनी पहली बार कॉमेंट्री करते हुए देखे जा सकते हैं।