अपर निदेशक स्वास्थ्य ने संचारी रोग नियत्रंण हेतु कई वार्डो, स्कूलों मैं जाकर लोगों को किया जागरूक
1 min read

अपर निदेशक स्वास्थ्य ने संचारी रोग नियत्रंण हेतु कई वार्डो, स्कूलों मैं जाकर लोगों को किया जागरूक

रिपोर्ट-शौकीन खान/कौशल किशोर गुरसरांय

गुरसरांय (झांसी)। 11 जुलाई गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारियों ने गुरसरांय नगर क्षेत्र के उन क्षेत्रों में संचारी रोग नियंत्रण को लेकर मौके पर जाकर वहां सफाई व जल भराव को परखा जिसके चलते पिछले वर्ष इन वार्डों में बड़ी संख्या में डेंगू से प्रभावित लोग मिले थे यहां तक की कुछ लोगों की मौत भी हो गई थी इसको देखते हुए झांसी मंडल के अपर निदेशक चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण डॉक्टर सुमन और उनके साथ झांसी से आए एंटी डर्मेटोलॉजिस्ट रविदास गुरसरांय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी डॉक्टर अंशुमान तिवारी सहित गुरसरांय स्वास्थ्य विभाग की टीम गुरसरांय नगर के कई वार्डों में डोर टू डोर गए और मौके पर स्थलीय गंदगी, जल भराव की ओर विशेष फोकस किया गया ताकि इस क्षेत्र में संक्रमण बीमारियां जन्म लेने से पहले ही दफना दी जाएं इसके लिए सफाई के साथ-साथ बिल्कुल भी पानी जमा न हो और दवा का छिड़काव कर पूरी तरह सफाई व्यवस्था चौकस रखी जाए आज मौके पर स्थानीय प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर अंशुमान तिवारी कि यह बेहतरीन पहल निश्चित ही संचारी रोग से मुक्ति के लिए सुखद परिणाम देगा इसके साथ ही संचारी रोग की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से चलाए जा रहे अभियान की समीक्षा करने के लिए अपर निदेशक चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण डॉक्टर सुमन एवं एंटी डर्मेटोलॉजिस्ट रविदास सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र गुरसरांय आये।उन्होंने सभी ए०एन०एम०/आशा,सीएचओं/ हेल्थ सुपरवाइजर से कहा कि वह घर-घर जाकर लोगों को जागरूक करने के साथ ही बीमारियों का भी पता लगाए इसके लिए डेंगू जैसी घातक बीमारियों पर भी रोक लगा सकें, कहा कि 11 जुलाई से चलाए जा रहे दस्तक अभियान में भी सभी ए०एन०एम० एवं आशा वर्कर घर-घर जाएंगे इसके साथ ही डायरिया की रोकथाम के लिए भी 1 जुलाई से 31 अगस्त तक अभियान चलाया जा रहा है इसमें भी डायरिया से ग्रसित बच्चों को ओ०आर०एस० और 14 जिनकी गोलियां दी जा रही हैं । इसके पूर्व अपर निदेशक ने ब्लॉक गुरसरांय के कटरा मोहल्ले में व्यवस्थाओं को देखा जहां पर साफ-सफाई व्यवस्था ठीक पाई गई। उनका कहना था कि पिछले वर्ष इस मोहल्ले में पिछले वर्ष डेंगू के मरीज मिले थे लेकिन इस बार ऐसा नहीं है । अपर निदेशक के द्वारा प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालय गुरसरांय (1-8) का निरीक्षण किया गया,विद्यालय में सभी बच्चों से कहा की फुल आस्तीन के कपड़े पहने तथा अपने घर में साफ सफाई रखें तथा कहीं भी जल भराव ना हो। इस दौरान प्रभारी चिकित्सा अधिकारी गुरसरांय डॉक्टर अंशुमान तिवारी ने भी सफाई के बारे में बच्चों को विस्तृत जानकारी दी। सत्येंद्र तिवारी ब्लॉक कार्यक्रम अधिकारी ने शिक्षा विभाग में चल रही स्वास्थ्य विभाग की योजनाओं के बारे में बच्चों को जानकारी दी।इस मौके पर विद्यालय में प्रधानाध्यापक आदर्श द्विवेदी ने अतिथियों का स्वागत किया,विद्यालय की स्मार्ट क्लास व लैब की निदेशक महोदया व अतिथियों ने भूरि भूरि प्रसंशा की।निरीक्षण के समय विद्यालय में अनीता वर्मा,गीता, रानी सोनी,प्रीति द्विवेदी,कृष्ण पाल सिंह,प्रदीप सिंह,वंदना, स्वीटी जैन,प्रेम प्रकाश उपस्थित रहे। वहीं स्वास्थ्य विभाग से पीके राव,संतोष कुमार,विष्णुआर, बृजेश पाठक,सौरभ पाठक,अरविंद कुमार,शशिकांत नायक, सतेंद्र तिवारी,धनराज आदि उपस्थित रहे।

 

जल निगम ने खड़ी की मुसीबत

जल निगम द्वारा हर घर जल हर घर नल योजना के तहत गुरसरांय के हर वार्डों मैं पाइप बिछाने के लिए खोदी गई सड़के पूरी तरह गड्ढा युक्त खुदी डली है जिसके चलते हर जगह पानी का भराव बरसात में हो रहा है और यह गंदा पानी संक्रमण बीमारियों के लिए मच्छर आदि गंदगी पैदा कर रही है इसके लिए बहुत जल्द सभी सड़के मरम्मत कर जल भराव व गंदगी के लिए रोकना होगा लेकिन संबंधित विभाग द्वारा 1 साल से यह सड़के जगह-जगह खुदी पड़ी है इसको लेकर 10 जुलाई को एसडीएम गरौठा ने भी गुरसरांय में घूम कर जल निगम द्वारा फैलाई अव्यवस्था देखी थी और 11 जुलाई को अपर निदेशक स्वास्थ्य ने भी मोहल्ला कटरा सहित कई वार्डों में उखडी़ पड़ी सड़के गंदगी को निमंत्रण दे रही हैं इसके लिए उन्होंने भी संबंधित विभाग को लिखेंगे के लिए कहां है ताकि संक्रमण बीमारियां जन्म ना ले सके।