दलित ने मजदूरी करने से मना किया तो दबंगों ने युवक को मारपीट कर किया मरणासन्न,इलाज दौरान हुई मौत
1 min read

दलित ने मजदूरी करने से मना किया तो दबंगों ने युवक को मारपीट कर किया मरणासन्न,इलाज दौरान हुई मौत

रिपोर्ट-शौकीन खान/कौशल किशोर गुरसरांय

गुरसरांय(झांसी)। दलित युवक ने काम करने से मना किया तो उसको दबंगो ने बेरहमी से मारपीट कर दी। दबंगो के भय के चलते युवक के पिता अपने लड़के को गुरसरांय इलाज कराकर चुपचाप अपने घर चला गया। और 1अप्रैल 2024 को सुबह युवक की हालत बिगड़ने पर उसे सरकारी अस्पताल गुरसरांय लाये जहाँ डॉक्टरों ने परीक्षण करने उपरांत उसे मृत घोषित कर दिया।प्राप्त विवरण के मुताबिक गुरसरांय थाना अंतर्गत ग्राम कुरेठा निवासी कल्याण पुत्र सुम्मेर कोरी ने थाना गुरसरांय में प्रार्थना पत्र देकर बताया कि मेरा लड़का 26 मार्च 2024 को ग्यादीन के खेतो पर फसल काटने जा रहा था। जब वह कल्याण उर्फ कलू पाल पुत्र सुखू पाल के दरवाजे से जा रहा था। तो कल्याण उर्फ कलू पाल ने अपनी फसल काटने को कहा। तो मेरे लड़के ने कहा अभी हम दूसरे की फसल काट रहे हैं आपकी फसल नहीं काट पाएंगे इसी बात को लेकर मेरे ही गांव के कल्याण और कलू पाल पुत्र सुखू पाल व सुखू पाल पुत्र छिदामि पाल,सुरेश पुत्र कथूले पाल व सियाराम पुत्र बालू पाल ने मेरे लड़के को गाली गलौज देना शुरू कर दिया। कि कोरी वाले तेरे दिमाग ज्यादा खराब है। मेरे लड़के ने गाली देने से मना किया तो उक्त लोगों ने मेरे लड़के को लात घूसों लाठी डंडों से पिटाई कर दी उक्त पाल लोगों के डर के कारण अपने लड़के को दवाई दिलाकर घर पर ही देखभाल करता रहा आज दिनाँक 1 अप्रैल 2024 को सुबह करीब 1:00 बजे रात मे लड़के की तबीयत खराब हुई। और हम लोग गुरसरांय सरकारी अस्पताल लाये जहां पर डॉक्टरों द्वारा उसकों मृत घोषित कर दिया गया मेरे लड़के की मृत्यु कल्याण उर्फ कलू व सुखू पाल व सुरेश व सियाराम पाल द्वारा पूर्व में की गई मारपीट के कारण इलाज दौरान हो गई है उपरोक्त चारों लोगों के खिलाफ रिपोर्ट लिखकर कार्रवाई करने की कृपा करें।इस प्रार्थना पत्र के आधार पर गुरसरांय पुलिस ने कल्याण उर्फ कलू,सुखू पाल,सुरेश,सियाराम पाल भारतीय दंड संहिता 1860 के अनुसार धारा 304 तथा अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जन जाति की धारा 3(2) (v) के तहत मुकदमा पंजीकृत कर मृतक के शव का पंचनामा भर शव को पोस्टमार्टम हेतु भेजकर तेज गति से विधिक कार्रवाई प्रारंभ कर दी है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक इस संबंध में गुरसरांय पुलिस ने तत्काल एक्शन लेते हुए इस घटना में संलिप्त अभियुक्तों की धड़पकड़ हेतु कार्रवाई तेज कर दी है। वहीं गुरसरांय पुलिस समेत पुलिस उच्च अधिकारियों के निर्देशन में इस मामले में पुलिस सक्रियता से जुटी हुई है और यह भी जानकारी हुई है कि 1 अप्रैल को शाम 7 बजे के लगभग मृतक के शव को उनके परिवारजनों और गाँव की मौजूदगी में पुलिस सुरक्षा व्यवस्था के बीच अंतिम संस्कार कर दिया गया है।