आचार्य श्री विद्यासागर महाराज के विनयांजलि मै पुष्प अर्पित करने को उमड़ा जनसैलाब
1 min read

आचार्य श्री विद्यासागर महाराज के विनयांजलि मै पुष्प अर्पित करने को उमड़ा जनसैलाब

गुरसरांय(झांसी)। परम पूज्य संत शिरोमणि आचार्य श्री 108 विद्यासागर महाराज जी का समता पूर्वक समाधिमरण चंद्रगिरि तीर्थ क्षेत्र डोगरगढ़ छत्तीसगढ़ में 18 फरवरी दिन रविवार को हो गया था जिससे पूरे जैन समाज में शोक की लहर है।आचार्य श्री ने हमेशा राष्ट्र को सर्वोपरि रखा,राष्ट्रहित में ही हम सभी को उपदेशित किया,”इंडिया नहीं भारत बोलो”का नारा देकर हमेशा स्वदेशी उत्पादों के उपयोग के लिए प्रोत्साहित किया।गौशालाओं के निर्माण,संस्कार युक्त शिक्षा,परमार्थ चिकित्सालय आदि का निर्माण उन्हीं के निर्देशन में हुआ। उन्होंने विश्वपटल पर जैन समाज का पताका फहराया।उनका जाना जैन समाज की अकल्पनीय क्षति है।ऐसे हमारे परम पूज्य आचार्य श्री को हम सभी की ओर से भाव भीनी विनयांजलि देने के लिए एक सभा का आयोजन दिनांक 25 फरवरी दिन रविवार को दोपहर 1 बजे से मैन बाजार स्थित हनुमान जी मंदिर के पास रखा गया।इस कार्यक्रम में क्षेत्रीय सांसद भानुप्रताप वर्मा,क्षेत्रीय विधायक जवाहरलाल राजपूत एवं सांसद प्रतिनिधि जिनेंद्र जैन भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष नेहिल सिंघई क्षेत्राधिकारी गरौठा सम्मिलित हुए ।इन सभी आचार्य श्री के श्री चरणों में दीप प्रज्जलन पुष्प समर्पित करके आचार्य श्री को भावभीगी विनयांजलि दी क्षेत्रीय सांसद भानु प्रताप वर्मा ने कहा आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज का समतापूर्वक समाधिमरण हुआ है वह भारत के नहीं विश्व के महान संत थे उन्हें भारत रत्न की उपाधि से सम्मानित किया जाए।वहीं क्षेत्रीय विधायक ने बताया कि वह आचार्य श्री के दर्शन करने के लिए देवगढ़ गए थे उन्होंने आचार्य श्री के दर्शन करें और उनके चर्या देखी तो उन्हें लगा यह कोई संत नहीं है यह तो साक्षात तीन लोग के नाथ हैं उन्होंने बताया कि आज में जो भी हूं उन्हें क्या आशीर्वाद से हूं,सांसद प्रतिनिधि जिनेंद्र जैन बघेरा वालों ने आचार्य श्री को भाव भीगी विनयांजलि समर्पित करते हुए कहा की आचार्य श्री के द्वारा हथकरघा का कई जगह निर्माण कराया गया जिससे हजारों परिवारों के लोगों को रोजगार मिला दिगंबर जैन समाज के अध्यक्ष चक्रेश जैन में भी आचार्य श्री को नम आंखों से विनयांजलि समर्पित की जैन समाज व सर्वधर्म समाज के लोगों ने आचार्य श्री को नम आंखो से भावभीगी विनयांजलि समर्पित की आज सभी लोगों की आंखें नम से भरी थी।अखिलेश पिपरैया ने कहा की विद्यासागर महाराज जी वो एक समुद्र की तरह विशाल हृदय वाले थे उन्होंने कभी अपना पराया नहीं समझा उन्होंने समुचित भारत एवं विश्व को जियो जीने दो का मार्ग बताया हम सभी को उनके मार्ग पर चलना चाहिए वहीं अरविंद पिपरैया ने कहा की गुलदस्ता में फूल तो बहुत होते हैं जिसमें एक बहुत सुंदर फूल होता है भारत में संत तो बहुत हैं पर हमारे आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज ऐसे ही एक फूल थे वही जैन समाज की श्रुती सिंघई ने कहा कि आचार्य श्री ने कई जगह प्रतिभास्थली निर्माण करया जिससे हमारी बच्चियों को शिक्षा के साथ संस्कार भी मिल सकें वहीं आदि जैन सुट्टा ने कहा की आचार्य श्री हम सब के युवा सम्राट थे साहिल जैन सैरिया ने नम आँखों से आचार्य श्री को विनयांजलि समर्पित करते हुए कहा कि आचार्य श्री जीवंत भगवान है आकांक्षा जैन नुनार ने आचार्य श्री को विनयांजलि समर्पित करते हुए कहा कि मैं आचार्य श्री के लिए क्या कहू गुरुवर के लिए तो मेरे पास कोई शब्द ही नहीं है राखी जैन होन्डा ने आचार्य श्री को विनयांजलि समर्पित करते हुए कहा की सरकार बूचढ़खाने बन्ध नहीं कर सकता दीपा जैन नुनार ने कहा कि हम गौशालाएं खुलकर गौ हत्या रोक सकते हैं और आचार्य श्री के प्रेरणा से भारत में हजारों जगह गौशालाएं चलाके गौ रक्षा की जा रही है इस मौके पर डिप्टी एसपी गरौठा रामवीर सिंह, इंस्पेक्टर थाना प्रभारी संतोष कुमार अवस्थी, गुलाबचंद जैन सुनील सिंघई, सुकुमारचंद जैन सुट्टा, रमेश चंद्र जैन, राजकुमार मोदी ,प्रकाश चंद्र जैन नुनार, धन्य कुमार जैन राजेंद्र जैन सुट्टा , चौधरी सनद जैन,शिखर चंद जैन,राजेश सिंघई, सुनील जैन डीकू, विजय सिंघई,नरेश सैरिया, कल्लू सैरिया,डॉ.सचिन सिंघई,आलोक जैन सरसेडा़ ,रूपेश जैन, दीपक जैन नुनार,सक्षम जैन सेरिया,नमन जैन, साहिल जैन ,कमल कुमार जैन कक्का, रवि जैन करगुआ,अनिकेत जैन, बंटी जैन ठेकेदार ,संजीव जैन अकोढी़ ,शुभम अकोढी़ ,छोटू जैन अकोढी़ ,सजल सिंघई ,मुदित जैन, छोटू लंबरदार, विक्की समैया, बंटू जैन सुट्टा, रामेश्वर अग्रवाल, सुरेंद्र जैन सरसेडा ,राकेश सैरिया, रवि जैन खिसनी, सीटू जैन, जय कुमार सिंघई, विनोद सिंघई, अनिकेत सुट्टा ,प्रेमचंद जैन ,उत्तम चंद जैन, पदमचंद जैन, सीमित जैन ,मिलन जैन ,लोकेश जैन परी ,राकेश जैन, अनिल जैन टीकमगढ़ टुनटुन, बल्लू मोदी ,नमन सिघई, मंजू जैन नुनार,पुष्पा जैन सेरिया, सौम्या जैन नुनार, ज्योति समैया, प्रवेश जैन,सरोज जैन टीकमगढ़ अल्का जैन ललितपुर ,पिंकी जैन सरसेडा,जेसमीन जैन, साधना जैन,अल्का जैन, मंजू सिघई ,सरोज जैन, मंगला जैन, झांसी वाली माई, सुषमा मोदी, विनीता दर्शन ,सुरभि सैरिया, रानी मोदी, दीप्ति जैन, सरिता जैन, विक्की समैया, खुशबू जैन, प्रिया जैन, वर्षा जैन ,परि जैन नुनार ,सेजल जैन नुनार एवं नगर के रमेश मौर्य, घनश्याम दास अग्रवाल, नितिन स्वामी,अश्वनी पस्तौर, पार्षद रविंद्र स्वामी, नीरज शर्मा शीला अध्यक्ष क्रय विक्रय समिति गुरसराय, राजा चौहान, सूरज पटेल माते एवं दिगंबर जैन समाज नगर के समस्त नागरिकों ने आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज को भावभीगी विनयांजलि दी।मंच का संचालन आलोक जैन सरसैडा़ ने किया।