रिपोर्ट-शौकीन खान/कौशल किशोर गुरसरांय

गुरसरांय (झांसी)। ठंड बढ़ने से आम जनजीवन अब बुरी तरह प्रभावित होने लगा है और सबसे अधिक मार राहगीरों सरकारी अस्पताल में आए तीमारदारों और गरीब,मजदूर,असहाय वृद्ध जनों पर पड़ रहा है 5 दिसंबर की शाम तक तहसील से लेकर नगर पालिका प्रशासन और किसी भी संस्था द्वारा अलाव से लेकर कंवल वितरण आदि की कोई भी व्यवस्था न होने से शासन द्वारा दिए गए ठंड से बचाव के लिए राहत कार्यक्रम का कोई भी कदम अभी तक नहीं उठाया गया था जिससे प्रशासन की कार्यशैली पर भी सवाल उठ रहे हैं और खास तौर से बेजुबान गोवंशों से लेकर जानवरों की हालत बहुत ही दयनीय है इसलिए गो संरक्षण के लिए प्रशासन को जल्द कदम उठाने की जरूरत है उधर नगर पालिका परिषद गुरसरांय में जानकारी करने पर बताया गया है कि 6 दिसंबर से अलाव प्रमुख स्थानों पर युद्ध स्तर पर लगवा कर ठंड से बचाव व राहत कार्यक्रम चलाए जावेंगे उधर लोगों ने जल्द रेन बसेरा चालू कराएं जाने की मांग की है क्योंकि गुरसरांय में स्थाई बस स्टैंड ना होने से राहगीरों को बहुत ही संकट से गुजरना पड़ता है।

झाँसी उत्तर प्रदेश

+ There are no comments

Add yours