विनय नगायच सह बुन्देलखण्ड प्रभारी
दैनिक बुन्देलखण्ड बुलेटिन (8299303395 )
झांसी- संविधान दिवस के उपलक्ष्य में अपराह्न 16.00 बजे मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय, झांसी में मंडल रेल प्रबंधक श्री दीपक कुमार सिन्हा के नेतृत्व में संविधान की प्रस्तावना का वाचन किया गया किया गया।
ज्ञात हो कि 26 नवंबर 1949 को भारत की संविधान सभा द्वारा अंगीकार और 26 जनवरी 1950 से प्रभावी होने के साथ भारत का संविधान हमारे राष्ट्र का सर्वोच्च कानून बना था। यह दस्तावेज़ हमारी मूलभूत राजनीतिक व्यवस्था, संरचना, प्रक्रियाओं, शक्तियों और सरकारी संस्थानों के कर्तव्यों का सीमांकन करता है और साथ ही मौलिक अधिकारों, नीति निर्देशक सिद्धांतों और नागरिकों के कर्तव्यों को निर्धारित करता है। यह दुनिया में किसी भी देश का सबसे बड़ा लिखित संविधान है और विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र की रीढ़ है। संविधान भारत को एक संप्रभु समाजवादी, धर्मनिरपेक्ष, लोकतांत्रिक गणराज्य घोषित करने के साथ ही, नागरिकों को न्याय, समानता और स्वतंत्रता के प्रति आश्वस्त करता है और राष्ट्र में भ्रातृत्वभाव को स्थापित कर रहा है।
इस अवसर पर सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को “संविधान का प्रस्तावना-पाठ कराया गया। संविधान दिवस प्रस्तावना-पाठ कार्यक्रम में अपर मंडल रेल प्रबंधक(इंफ्रा) श्री विवेक मिश्र, अपर मंडल रेल प्रबंधक (परिचालन) श्री आर डी मौर्य, वरिष्ठ कार्मिक अधिकारी श्री ब्रजेश कुमार चतुर्वेदी सहित अधिकारीगण एवं मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय के कर्मचारी उपस्थित रहे।

झाँसी उत्तर प्रदेश

+ There are no comments

Add yours