विद्युत फीडर के समय को बढ़ाने की मांग के लिए चल रहा किसानों का अनशन अधिकारियों के आश्वासन पर समाप्त
1 min read

विद्युत फीडर के समय को बढ़ाने की मांग के लिए चल रहा किसानों का अनशन अधिकारियों के आश्वासन पर समाप्त

सिमरधा कृषि विद्युत फीडर को 10 घंटे से बड़ाकर 20 घंटे चलाए जाने की मांग को लेकर दिनांक 27 अक्टूबर से सेनानी समाधि स्थल सिमरधा में अनिश्चित कालीन क्रमिक अनशन के सातवे दिन धरना स्थल पर किसानों के पास पहुंचे अधिशासी अभियंता सुभाष चंद्रा, विद्युत उपखंड अधिकारी गुरसराए ललितेश यादव,नायब तहसीलदार गरौठा मानवेंद्र सिंह के आश्वासन पर किसानों ने अनशन समाप्त कर दिया अभियंता सुभाष चंद्रा ने किसानों को आश्वस्त करते हुए बताया कि रोस्टर के अनुसार कृषि फीडर को पूरे 10 घंटे सप्लाई दी जाएगी यदि किसी रुकावट के कारण शटडाउन के समय को पुनः सप्लाई के समय में जोड़कर 10 घंटे पूरे किए जायेंगे। किसानों की 20 घंटे की मांग को पत्राचार के माध्यम से लखनऊ उच्चाधिकारियों को अवगत कराया जायेगा इस समस्या को जल्द निपटाने की कोशिश की जायेगी किसानों ने आश्वस्त होकर अनशन समाप्ति की घोषणा कर दी।विभागीय अधिकारियों ने किसानों के इस निर्णय पर खुशी जाहिर की एवं किसानों द्वारा अमर उजाला पत्रकार बालादीन राठौर,कल्लू वर्मा,मानवेंद्र यादव,हेमंत यादव, शोम मिश्रा,प्रियवर्धन चौबे,निर्दोष राजपूत,हजरत खान आदि पत्रकार परिवार का आभार व्यक्त जिन्होंने किसानों की समस्या को लेखनी के माध्यम से शासन से लेकर प्रशासन तक पहुंचाया।इस मौके पर श्रीप्रकाश मिश्रा ,जगदीश सहाय तिवारी,सुरेश तिवारी, झुंडनलाल वर्मा,हाजी सुबराती खान,निर्भय राजपूत, बालस्वरूप सोनी, द्रगचंद्र तिवारी,शंकर भाई,किशोरी भाई आदि किसान धरना स्थल पर उपस्थित थे।

3 thoughts on “विद्युत फीडर के समय को बढ़ाने की मांग के लिए चल रहा किसानों का अनशन अधिकारियों के आश्वासन पर समाप्त

  1. Wonderful items from you, man. I’ve have in mind
    your stuff prior to and you are just too great. I really like what
    you have acquired right here, really like what you are saying and the
    way through which you are saying it. You’re making it entertaining and you still take care of to
    stay it wise. I cant wait to learn far more from you.

    This is really a great web site. I saw similar here: Dobry sklep

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *