बुजुर्ग दम्पति ने बेहतरीन सयोंग के बीच साथ-साथ ली अंतिम सांस
1 min read

बुजुर्ग दम्पति ने बेहतरीन सयोंग के बीच साथ-साथ ली अंतिम सांस

रिपोर्ट-शौकीन खान/कौशल किशोर गुरसरांय

गुरसरांय(झाँसी)। साथ जीयेंगे साथ मरेंगे ऐसा खुशी और गम के बीच एक सयोंग भरा शुभ समाचार झांसी जिले के गुरसरांय मोदी चौराहा के पास रहने वाले ग्राम कुरैठा निवासी सुंदर सिंह तोमर जो कि मध्य प्रदेश में पुलिस सब इंस्पेक्टर से रिटायर्ड हुए हैं जिनकी उम्र 85 वर्ष है वह अपनी धर्म पत्नी राम देवी तोमर उम्र 75 वर्ष के साथ अपने लड़को नाती के साथ रहते थे आज 23 अक्टूबर सोमवार को रामदेवी तोमर धर्मपत्नी सुंदर सिंह तोमर का बिना कोई बीमारी के बिना किसी परेशानी के सुबह 8:00 बजे निधन हो गया और ठीक 2 घंटे बाद इनके पति सुंदर सिंह तोमर का भी अकस्मात निधन हो गया और इन दोनों लोगों के निधन की घटना के बारे में ज्यों ही गुरसरांय और आस-पास जानकारी हुई तो इन बुजुर्ग पति पत्नी की एक साथ मौत पर गम और खुशी के बीच जो सबसे बड़ा अर्थ निकला उसको विधाता की करनी की खूबसूरती भरा संदेश यह निकलता है कि जब हिंदू रीति रिवाज अनुसार शादी होती है तो साथ फेरे और साथ वचन का संकल्प लिया जाता है उसी के अनुसार आज इन दोनों दामपत्य बुजुर्ग की मौत पर एक जिंदगी की विदाई में एक नई पटकथा लिख गई कि नवदुर्गा जैसे पवित्र माह पर्व पर पहले रामदेवी तोमर पत्नी की मृत्यु होती है और पति के रहते हुए पत्नी की मृत्यु होना सौभाग्यवती होना हिंदू धर्म में माना गया है और ठीक दो घंटे के भीतर उनके पति सुंदर सिंह तोमर अपना शरीर त्याग देते है इसको लेकर बुजुर्गो महिलाओं,पुरुषों के बीच एक सुखदायी चर्चा होती रही कि भगवन सभी को ऐसी ही मौत दे। उक्त दाम्पत्य सुंदर सिंह तोमर और उनकी धर्मपत्नी राम देवी तोमर का अंतिम संस्कार उनके गांव कुरैठा में बड़ी धूमधाम के साथ किया गया जिसमें बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *