मण्डी समिति के अधिकारियों की मिली भगत के चलते किसान,व्यापारी, सरकार हुए बेहाल
1 min read

मण्डी समिति के अधिकारियों की मिली भगत के चलते किसान,व्यापारी, सरकार हुए बेहाल

रिपोर्ट-शौकीन खान/कौशल किशोर गुरसरांय

गुरसरांय (झांसी)।आखिरकार गुरसरांय मण्डी समिति में कई वर्षों से जमे कर्मचारियों और अधिकारियों की अवैध रूप से गल्ला कारोबारियों की मिली भगत से गरीब किसान,सरकार और गल्ला मण्डी में नंबर एक का व्यापार कर रहे व्यापारियों को हर साल कई लाखों की चपत लग रही है जिसके चलते 22 जून 2022 को थाना गुरसरांय में चार दर्जन किसानों ने एक अवैध कारोबारी के विरुद्ध धारा 406,506 में दर्ज कराते हुए हवाला दिया था की लगभग एक करोड़ रुपये की उपज का अधिक मूल्य देने का लालच देकर मण्डी गेट के सामने रहने वाले लक्ष्मी तिवारी ने उनके गांव जाकर मटर, चना आदि उपजें खरीदी थी जिसका उसने भुगतान नहीं किया और उक्त उपज का भुगतान मांगने पर अभद्रता करते हुए मारपीट पर आमादा रहता है अभी यह मामला कानूनी दाव पैच में फंसा हुआ है और किस बुरी तरह परेशान हैं की फिर से मंडी विभाग के अधिकारियों की मिली भगत से अभी अक्टूबर 2023 में मूंगफली की फसल आना चालू हुई है और प्रशासन भले ही टैक्स चोरी रोकने के लिए विभिन्न विभागों को मैदान में उतरकर आए दिन अभियान चलाती हो लेकिन नगर में व्यापारियों के हौसले बुलंद हैं गरौठा क्षेत्र में मूंगफली की पैदावार अधिक होने के चलते गल्ला व्यापार से जुड़े माफियाओं ने अपने पांव पसारना शुरू कर दिए हैं नगर में मूंगफली की खरीद में जुटे माफिया किसानों से सीधी खरीद कर मध्य प्रदेश के मण्डी में भेज रहे हैं जिससे एक और टैक्स की चोरी हो रही है वहीं मण्डी परिषद को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है इतना ही नहीं टैक्स देकर मण्डी परिषद में खोले गल्ला व्यापारी के यहां किसान नहीं पहुंच रहे हैं बताते चलें कि गुरसरांय,गरौठा,एरच आदि क्षेत्र में स्थित गल्ला मण्डी में व्यापारी लाइसेंस लेकर खरीद करते हैं लेकिन कुछ माफिया मण्डी के बजाय किसानों से सीधा माल खरीद कर अन्य प्रदेशों की ओर सप्लाई कर देते हैं जिससे हाल ही में क्षेत्र में मूंगफली की फसल तैयार होकर बाजार में आने लगी है लेकिन गल्ला व्यापार से जुड़े कुछ माफिया किस्म के लोग मूंगफली को उत्तर प्रदेश की सीमा से सटे मध्य प्रदेश के हरपालपुर, भांडेर,दतिया आदि स्थानों पर खुली मीलों में पहुंच रहे हैं जिससे उत्तर प्रदेश सरकार को भारी टैक्स की चोरी का नुकसान उठाना पड़ रहा है बताते चलें कि क्षेत्र में इस वर्ष मूंगफली की पैदावार सबसे अधिक हुई है किसान खेत से मूंगफली तैयार कर बाजार में ले जाने की बजाय इन माफियाओं के हाथों बेच रहे हैं जो की ऊंची दामों पर मध्य प्रदेश की मील में पहुंचने का काम कर रहे हैं सुबह के समय छोटी गाड़ियों के माध्यम से माल की ढुलाई खुलेआम हो रही है ना तो इस ओर प्रशासन ध्यान दे रहा है ना ही पुलिस जिस से रूटों खुलेआम उक्त गाड़ियां गरौठा के रास्ते मध्य प्रदेश के हरपालपुर एवं मौठ़ के रास्ते भंडारे एवं दतिया पहुंच रही है जिसकी चर्चा पूरे व्यापार जगत में आम हो गई है लेकिन कोई कार्रवाई न होने से उनके हौसले बुलंद हैं। बताते चलें अवैध कारोबारियों और मण्डी समिति के अधिकारियों की मिली भगत के चलते गुरसरांय में मुख्य मार्ग पर खुल्लम खुल्ला अवैध कारोबारी दुकान खोले हुए हैं और ट्रकों के ट्रक यहीं से लोडिंग हो रहे है जिसकी यह फोटो अखबार में पिछले दिनों भी चर्चा में आई थी लेकिन अवैध कारोबारियों और मण्डी समिति के अधिकारियों की मिली भगत के चलते लग रहा है कहीं ना कहीं प्रशासन भी कार्रवाई करने में लाचार है क्षेत्र के जागरूक लोगों ने इस संबंध में जिला प्रशासन और उत्तर प्रदेश शासन से कार्यवाही की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *