मूंग उड़द तिली एवं मूंगफली के खेतो मे नमी कम हो जाने की वजह से उर्द मूंग लगभग सूख चुकी

गरौठा सिमरधा- बीते 2 सप्ताह से बारिश न होने के कारण मूंग उड़द तिली एवं मूंगफली के खेतो मे नमी कम हो जाने की वजह से उर्द मूंग लगभग सूख चुकी है मूंगफली एवं तिली की पैदावार में भारी गिरावट निश्चित हो चुकी है खरीफ फसल में बोई गई उर्द मूंग मूंगफली तिली लगभग 2 माह 10 दिन की हो चुकी हैं फूल और फल के समय बारिश न होने से किसानों ने बताया कि फसल की पैदावार में भारी नुकसान होगा जो अब खेतो में खड़ी फसलों को देख कर साफ साफ दिखने लगा है समय पर मानसूनी बरसात होने से बोई गई मूंगफली की कीमत 15 हजार रूपए प्रति क्विंटल थी मूंगफली की फसल को देखकर किसान के चेहरे पर भी खुशी दिखती थी अच्छी फसल को देखते हुए समय समय पर खरपतवार, कीटनाशक दवाओं एवं खाद का उपयोग किसानों द्वारा किया गया लेकिन पूरे अगस्त माह में कम पानी गिरने के कारण फसल उत्पादन में भारी असर आ गया सिमरधा न्याय पंचायत के सिमरधा, पसौरा,खेरी,खडौरा जसवंतपुरा सहित न्याय पंचायत रामपुरा के बंगरा ,बिरौना,निमगाहना आदि के सभी ग्रामों के मौजे में सूखे के कारण फसल की यही स्तिथि बन गई है किसान नेता श्रीप्रकाश मिश्रा,धर्मेंद्र तिवारी,शंकर राजपूत,आनंद वर्धन चौबे,द्रगचंद्र तिवारी,जगदीश सहाय तिवारी,हरनाथ राजपूत,धर्मेंद्र द्विवेदी,लखन राजपूत,तेज प्रताप चौबे,अभिलाषा चतुर्वेदी,जयप्रकाश त्रिपाठी,भान प्रताप राजपूत आदि किसानों ने बताया कि आगामी दिनों में यदि बारिश होती है तो मूंगफली में पड़े कुछ दाने ठीक ठाक हो जायेगें पैदावार में आई गिरावट का अब बारिश से ज्यादा असर नहीं दिखने वाला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social media & sharing icons powered by UltimatelySocial