पारिवारिक विवाद,छोटी बहूं और उसके मायके वालों से दुखी ससुर ने जान दी
1 min read

पारिवारिक विवाद,छोटी बहूं और उसके मायके वालों से दुखी ससुर ने जान दी

झांसी। पारिवारिक विवाद,छोटी बहूं और उसके मायके वालों से दुखी ससुर ने जान दी, उन्नाव गेट बाहर थाना कोतवाली जिला झाँसी की निवासी मृतक कालीचरण रजक कि पत्नी और परिजनों ने झांसी कोतवाली थाना पुलिस को आवेदन देकर कार्रवाई की मांग की, मृतक की पत्नी उमा रजक ने बताया कि अपने छोटे पुत्र आकाश की शादी दिनांक 2मई5-2023 को रोशनी पुत्री विनोद निवासी ग्राम धाड थाना दिनारा जिला शिवपुरी म०प्र० के साथ हिन्दू रीति रिवाज के अनुसार सम्पन्न हुई। थी शादी के बाद से ही मेरी छोटी बहु तथा उसके पिता विनोद तथा दादा किशन तथा पवन, श्रीमती रीता निवासी गुमनावारा पिछोर थाना नबाबाद जिला झाँसी मेरे पति को आएं दिन परेशान करते थे, अवैध रूपया माँगते थे ना देने पर दहेज के झूठे केस में फँसाने की धमकी देते थे, जिससे मेरा पति काफी दुखी और परेशान हो रहा था, छोटी बहूं के मायके वाले घर और फोन पर लगातार धमकी और पैसों कि मांग कर रहे थे।
20 अगस्त 2023को मेरी छोटी बहूं रोशनी रजक ने गाली गलौच किया व जान से मारने की धमकी दी और उसने अपने मायके फोन कर दिया जिस पर उसका पिता विनोद, दादा किशन, मौसा पवन, मौसी रीता मेरे घर पर आये और आते ही मेरे पति को गाली गलौच करने लगे जब मेरे पति ने गाली गलौच करने से मना किया तो सभी मेरे पति से 4 लाख रूपया मॉगने लगे जब मेरे पति ने मना किया तो सभी गाली गलौच करने लगे जिस पर मेरे पति ने मजबूरनं सभी को 2 लाख रूपया नगद दे दिए ,छोटी बहूं के मायके कहने लगे कि अगर दो लाख रूपया का इन्तजाम नही किया तो ट्रेन से कट कर अपनी आत्म हत्या कर लेना ना नही तो दहेज के झूठे केस में फॅसा देगे,जिससे मेरा पति काफी भयभीत हो गया और पुत्रवधू व उसके मायके वालों द्वारा की गई बेइज्जती से दुखी होकर सोमवार 21 अगस्त को मेरा पति कालीचरण ने कानपुर रेलवे लाईन से ट्रेन से कट कर आत्म हत्या कर ली है।जिसकी मोबाइल में रिकॉर्डग है, मृतक की पत्नी उमा और परिजनों का आरोप छोटी बहूं रोशनी, विनोद, किशन, पवन, रीता के उत्पीडन तथा उनके द्वारा आत्म हत्या के लिए प्रेरत करने के कारण की है। मेरा परिवार गरीब है, मजदूरी कर अपना जीवन यापन कर रहे थे,पति की मृत्यु होने होने से दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है, पुलिस अधिकारियों निवेदन है निष्पक्ष जांच हो आरोपी के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की जाएं और न्याय दिया जाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *