गुरसरांय,टहरौली क्षेत्र में जल जीवन मिशन योजना पर उठ रहे सवाल,जनता बेहाल
1 min read

गुरसरांय,टहरौली क्षेत्र में जल जीवन मिशन योजना पर उठ रहे सवाल,जनता बेहाल

रिपोर्ट -शौकीन खान/कौशल किशोर गुरसरांय

गुरसरांय/टहरौली(झांसी)। केंद्र और राज्य सरकार की बुंदेलखंड के लिए महत्वपूर्ण योजना जल जीवन मिशन हर घर जल हर घर नल मौके पर जल निगम के अधिकारियों से लेकर ठेकेदारों और जल संस्थान विभाग की घोर लापरवाही के चलते ना तो समय से काम पूरा होता दिख रहा है बल्कि उल्टा कस्बा गुरसरांय से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में मुख्य मार्गों की सड़कों से लेकर गुरसरांय कस्बे में जो पाइप लाइनें डाली गई है उससे पूरे टाउन क्षेत्र की सड़कें क्षतिग्रस्त हो गई हैं और जिसके चलते आए दिन दुर्घटनाएं हो रही हैं यहां तक की पैदल चलना भी लोगों को मुश्किल हो रहा है तो दूसरी ओर नमामि गंगे योजना का जो समय निर्धारित था उसके मुताबिक धरातल पर योजना परवान चढ़ते नहीं दिख रही है जिससे कस्बा गुरसरांय में आम लोगों को पीने के पानी तक की इतनी विकराल समस्या पैदा हो गई है की बड़ी संख्या में महिला,पुरुष,बच्चे सब के सब पानी की किल्लत को लेकर परेशान हैं इसमें मुख्य रूप से जल संस्थान जल निगम विभाग से लेकर ठेकेदारों की कहीं ना कहीं मिलीभगत आम जनता को विकराल समस्या की ओर धकेल रही है तो दूसरी ओर केंद्र और राज्य सरकार की योजना को पलीता लग रहा है जिससे सरकार की साख पर भी बट्टा लग रहा है जिसको लेकर गुरसरांय नगर में पानी की किल्लत बरकरार है, और महिलाओं ने विरोध जताते हुए गुरसरांय नगर के वार्ड नंबर 18 कटरा मुहल्ले पर पेयजल किल्लत से वार्डवासी परेशान हो रहे हैं। परेशान वार्ड वासियों ने पेयजल किल्लत को लेकर मोहल्ले में एकत्रित होकर महिलाओं और पुरुषों ने खाली बर्तन रखकर पानी को लेकर विरोध जताया। वार्डवासी आवेश त्रिपाठी ने बताया कि वार्ड में एक महीने से टंकी में पानी नही आ रहा है जिससे वार्ड वासियों के सामने पीने के पानी की समस्या गंभीर बनी हुई है। और जिस पानी की लाइन से मुहल्लेवासी पानी भर रहे थे उसे पालिका द्वारा काट दिया गया है। लोगों ने बताया कि पहले यह लाइन पालिका ने ही डलवाई थी। इस संबंध मे जब अधिशाषी अधिकारी अरविंद कुमार से दूरभाष पर बात की तो उन्होंने बताया कि जो भी अवैध कनेक्शन है उनको कटवाया जाएगा एवं पानी की समस्या के लिए वार्ड में टैंकर के पॉइंट बड़ाये जायेंगे। इस अवसर पर विरोध प्रकट करने वालो मे मुन्नी सोनी,किरन गोस्वामी,मनीषा, नेहा,रश्मि स्वामी,सपना चौरसिया,मनीषा गोस्वामी,भारती चौरसिया,द्रोपदी देवी,पुष्पा,रीता सोनी,मिथला त्रिपाठी,अखिलेश सोनी,चमन गोस्वामी, विनोद स्वामी,द्वारका सोनी,मनोज महाराज,पंकज सोनी आदि मुहल्ले वासी उपस्थित रहे।

 

किसी बड़ी दुर्घटना का इंतज़ार कर रहा, जल जीवन मिशन ठेकेदार

ग्राम गाता से टहरौली संपर्क मार्ग पर जल जीवन मिशन द्वारा पानी सप्लाई के लिए पाइप लाइन खोदी गई खाई से मिट्टी सड़क पर बिखेर रखी थी, कार्य होने के उपरांत सड़क से मिट्टी न हटाने के चक्कर में आवागमन प्रभावित हो रहा है। जानकारी के मुताबिक एक मुख्य लाइन बड़वार झील से गाता होते हुए ग्राम ताई जागीर प्रमुख टंकी भरने हेतु बिछाई गई जिसमें सड़क का ज्यादा एरिया काटकर मिट्टी को सड़क के ऊपर फैला रखा। जबकि टेंडर प्रक्रिया में सीसी काटने के लिए कटर मशीन एवं रोड क्लीनिंग का प्राविधान है। ठीक इसके विपरीत कार्य को अंजाम देकर जनमानस जल निगम की लापरवाही का शिकार हो रहा है।तथा दूसरी लाइन ग्राम ताई जागीर से ग्राम गाता के लिए पानी सप्लाई हेतु पाइप लाइन बिछाई जिसके कारण जमी हुई मिट्टी पुनः खोद कर जगह जगह खाई में तब्दील कर मिट्टी सड़क पर फैला रखी।मिट्टी के कारण सड़क पर करीब आधा फीट मलवा जमा हो गया। वाहन से सफर करना मतलब शेर से कुश्ती करने के बराबर है। दो पहिया वाहन से पांच किलोमीटर दूरी तय करने में एक घंटा का समय लगता है। वर्तमान समाज में विद्यालय खुल चुके हैं ऐसे में बच्चों की पढ़ाई बाधित होने की पूरी संभावनाएं हैं। बच्चे कोचिंग एवं विद्यालय जाने के लिए रास्ते की हालत देख घबरा रहे, जिनके मन में भय पनप रहा, कहीं वाहन से गिरकर चोटिल न हो जाएं। यदि जल जीवन मिशन का ठेकेदार लापरवाही से कार्य न करवाता तो शायद आम जनमानस को यह गंभीर समस्या का सामना नहीं करना पड़ता।
गाता से टहरौली मार्ग पर लगभग 6 जगह बड़ी लाइन में काफी ज्यादा पानी लीकेज होता है। टेस्टिंग हुए करीब दो माह बीत चुके हैं,इसके बावजूद भी लीकेज विभाग द्वारा ठीक नहीं कराया गया। जहां जहां लीकेज हैं वहां हैवी वाहनों की आवाजाही से डामर रोड करीब एक फीट बैठ गया है।डामर रोड दुरुस्त कराने के लिए दूरभाष के माध्यम से अवर अभियंता पीडब्ल्यूडी विभाग झांसी से कही गई थी। जिसका जबाव उनके द्वारा जल जीवन मिशन की घोर लापरवाही बताते हुए पल्ला झाड़ लिया है।
इतना ही नहीं जब ठेकेदार की लापरवाह रवैए से ग्रामीण परेशान हुए तो इसकी लिखित शिकायती पत्र के माध्यम से ग्राम प्रधान गाता अवध बिहारी द्वारा अपर जिलाधिकारी नमामि गंगे झांसी को 13 अप्रैल 2023 में अवगत कराया गया, जिसके उपरांत अपर जिलाधिकारी झांसी द्वारा पत्र लिखकर अधिशासी अभियंता जल निगम झांसी (ग्रामीण) को बताया जिसके बाबजूद भी मामले को गंभीरता से नहीं लिया गया। ग्रामीणों ने कहा कि यदि जल्द समस्या का समाधान नहीं होता है, तो इसकी शिकायत उच्चाधिकारियों से की जाएगी।

One thought on “गुरसरांय,टहरौली क्षेत्र में जल जीवन मिशन योजना पर उठ रहे सवाल,जनता बेहाल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *